November 19, 2018

आंखों में आँशु ओर टीचर के टॉर्चर से बेइज्जत हुई छात्राएं

शामली सदर कोतवाली क्षेत्र के सिटी के देश भगत इंटर कॉलेज के छात्रा् ने एसपी आफिस पर हिंदू युवा वाहिनी के लोगों और महिला बीजेपी महिला मोर्चा के पदाधिकारियों के साथ पहुंचकर की नारेबाजी । बीजेपी और हिंदू युवा वाहिनी के लोगों ने सरकार क तंत्र के खिलाफ ही नारेबाजी की। एसपी शामली ने तहरीर मिलते ही तुरंत मुकदमा दर्ज करने के लिए दिये । आदेश दो दिन पहले जिलाधिकारी से भी मिली थी पीड़ित छात्राये जिलाधिकारी की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं है पीड़ित छात्राएं।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ“ के सपने को चकनाचूर करने वाले अध्यापको की करतूत सामने आई है। जहां शिक्षा देने वाले अध्यापक खुद छात्राओं की बेइज्जती करने पर उतारू हो गए है वही अध्यापको द्वारा छात्राओं को अपशब्द शब्दों से टॉर्चर किया जाता है। कॉलिज मे पढ़ने वाली व देश का भविष्य बनने वाली छात्राओ को जाति सूचक शब्दों से टॉर्चर कर नसीहत दी जाती है। वही छात्राओ से मनमानी फीस वसूल की जाती है। वही शिक्षा का आईना कहे जाने वाले अध्यापक ही देश का भविष्य बनने वाली छात्राओं को बुरी नियत से देखते है ओर परीक्षा में फैल करने की धमकी भी देते है। अध्यापको के इस टॉर्चर से एक छात्रा अपनी परीक्षा भी छोड़ चुकी है। वही टीचर के टॉर्चर की बदजुबानी छात्राओ के आँशु खुद ही बया कर रहे है कि किस तरह से मासूम छात्राओ पर तंज कसा जाता है।
छात्रा पिंकी मलिक ने आँखो में आंसू भरे हुए बताया कि हमे हमारी प्रधानाचार्या बहूत गन्दी गन्दी बाते बोलती है। हमने जिलाधिकारी को भी शिकायत की थी।उसके बाद मेम ने हमें बहूत डांटा और हमारे फीस के सारे रजिस्टर भी छुपा दिये। अभी एस.पी. सहाब से मिले उन्होने कहाँ की जो आपका थाना पडता है। उसमें तहरीर दे दो। हमें इंसाफ चाहिए।
दरअसल मामला शामली जनपद के देशभक्त इंटर कॉलेज का है जहां पर छात्राएं अपना भविष्य सुधारने के लिए शिक्षा ग्रहण करने आती है वही अध्यापकों का रवैया छात्राओं के प्रति दुर्व्यवहार का देखने को मिला है। इन मासूम छात्राओं को क्या मालूम था कि जिस शिक्षा के मंदिर में यह शिक्षा ग्रहण करने आती हैं उसी शिक्षा मंदिर के अध्यापक उनको बुरी नजर से देखेंगे ओर प्रताड़ित भी करेंगे। वही ऐसे अध्यापक से छात्राएं इज्जत बचाने को मजबूर है। इतना ही नहीं कॉलेज में रिचा शर्मा नाम की प्रधानाचार्य छात्राओं को जातिसूचक शब्दों से अपमानित करती है। वही छात्राओं के कपड़ों पर भी प्रधानाचार्य रिचा शर्मा द्वारा कमेंट किए जाते हैं और जातिसूचक शब्दों के साथ कहा जाता है कि यदि कोई आपकी शक्ल देख ले तो वह 10 दिन तक खाना भी नहीं खा पाएगा। आप लोग नीच घराने से यहाँ पढ़ने आती हो। ऐसे शब्दों से छात्राओं को टॉर्चर करने पर क्या छात्राएं शिक्षा के मंदिर कहे जाने वाले कॉलेज में शिक्षा ग्रहण कर पाएंगी। एक प्रधानाचार्य के द्वारा इस तरह के शब्दों से टॉर्चर करने पर छात्राएं इज्जत बचाने को मजबूर है। वही इस मामले की शिकायत जिलाधिकारी से करने पर कॉलेज मैनेजर और प्रधानाचार्य दोनों ही सभी छात्राओं को फेल करने की धमकी भी देते है। वही कक्षा 10वी की छात्रा सोनी टीचर के टॉर्चर से अपनी परीक्षा भी छोड़ चुकी है। वही प्रधानाचार्या ओर मैनेजर परिवार को भी अपशब्दों का प्रयोग करके अपमानित कर चुके है। दहशत के साए में शिक्षा ग्रहण कर रही छात्राएं अब करें भी तो क्या करे। डर के साए में जीने को मजबूर है देशभक्त इंटर कॉलेज की यह मासूम छात्राएं
छात्रा कोमल ने बताया कि हमारे स्कूल में हमारे साथ बहूत ज्यादा हत्याचार हो रहा है। हमारी प्रधानाचार्य हमारी जाति व गरीबी व कपडो के नाम पर बेज्जत किया जाता है। और हमें ये कहती है। अगर आपकी शक्ल देखले तो 10 दिन तक भी खाना ना खाये कोई। हमे बहुत प्रत्याडित किया जाता है।
एक तरफ मोदी सरकार बेटी बचाओ बेटी पढाओ का नारा लगाकर अभिभावको को सरकारी नीति से जोडने का प्रयास कर रही है। वही नगर के देश भक्त इंटर कालेज की प्रधानाचार्या पर छात्राओं ने आरोप लगाया कि प्रधानाचार्या रिचा शर्मा छात्राओं के साथ जातिगत आधार पर भेदभाव कर आपत्ति जनक टिप्पणी करती है। वही मासिक फीस ओर प्रक्टिक्ल के नाम पर अवैध उगाही करती है। इतना ही नही प्रधानाचार्या छात्राओं से जबरदस्ती अपने केबिन मे झाडू पोचा लगवाती है तथा उनके चरित्र पर तंज कसती है। प्रबन्धक गुड मॉर्निंग के जबाव मे उन्हे बुरी नजरो से घूरते है। वही टीचर के टॉर्चर से दुखी होकर छात्राए अपने अभिभावकों के डीएम कार्यालय पर पहुँची ओर पूरे मामले की शिकायत की। वही डीएम ने छात्राओ के आरोप को गम्भीरता से लेते हुए कॉलिज में एक जांच टीम भी भेजी थी वही जांच टीम के पहुँचने से पहले ही प्रधानाचार्या ने जल्दी ही कॉलिज की छुट्टी कर फीस रजिस्टर भी छिपा दिये।
जिलाधिकरी इन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि कुछ छात्राओ के द्वारा अवैध फीस जो स्कूल में प्रैक्टिकल लेने आये उसके खर्च के लिये ली जाने की शिकायत आई है। बी.एस.ए. को जांच के आदेश दिये गये है। एक शिकायत जाति सूचक शब्दो से अपमीनित करने की भी थी। जांच की जा रही है।
पीड़ित छात्रा की माँ मिथलेश ने बताया कि हम एस.पी. के पास इस लिए आये की हमारी लडकी की साथ बदतमीजी की जाती है। और कहती है। कि तुम्हरी शक्ल देखकर हम खाना भी नही खा सकते। हमे ईसाफ चाहिए। सरकार कहती है। कि बेटी पढाओ बेटी बचाओ ये कैसा हत्याचार हो रहा है। हम गरीब आदमी है। क्या करे।

हिन्दू युवा वाहिनी व बी.जेपी. कार्यकर्त्ताओ ने एस.पी आफिस पहूँच बेटी बचाओ व आदित्यनाथ योगी जिन्दाबाद के नारे लगाते हुए जमकर हंगामा किया। वही एस.पी.शामली अजयपाल शर्मा ने मामला संज्ञान में लेते है। सम्बधित थाने में तहरीर देने व थाना अध्यक्ष को तुरंत मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करने के आदेश दिए है।
जिलाध्यक्ष महिला बी.जेपी शशि अरोरा ने बताया कि हम एस.पी.आफिस आये है। बेटियो के सम्मान में भाजपा मैदान में , देश भक्त इन्टर कालिज में जो बच्चिया पढती है। उनके साथ दुरव्यवहार हो रहा है।उनको जाति सूचक शब्दो से प्रत्याडित किया जा रहा है।और उनको धमकी दी जा रही है। कि अगर आप हमारे खिलाफ खडे होते हो तो हम आपको पढने नही देगें फेल करवा देगें। हमारे देश में बेटियो का सम्मान किया जाता है।और हम उस देश में है। जहाँ बेटियो को पूजा जाता है। और मैनेजर सुरेश शर्मा बच्चियो को गलत निगाहों से देखता है। प्रिंसिपल रिचा शर्मा आफिस में झाडू पौचा करती है। अगर एक महिला होकर एक महिला का सम्मान नही कर सकती तो आपको जीने का कोई हक नही है।
बालिकाओ ने हिन्दू युवा वाहिनी को लिखित में दिया है। कि देश भक्त के जो मैनेजर है। सुरेश शर्मा जब बालिका उन्हे नमस्ते करते है। तो बुरी नजर से घूरते है। और प्रिंसिपल रिचा शर्मा बच्चियो के साथ बडा दुरव्यवहार करती है। और अवैध वसूली भी करती है। इनके विरोध करने पर इनके साथ अपमान जनक व्यवहार किया है। एस.पी.सहाब ने कहा की आप थाने पर तहरीर दे रिपोर्ट दर्ज कर कार्यवाही की जायेगी।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *