November 19, 2018

सरकार 2022 तक किसानों की आय को दो गुना करने हेतु प्रतिबद्ध हैं

काशीपुर।  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रामलीला मैदान काशीपुर में आयोजित पं0दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना के तहत वृहद किसान ऋण समारोह को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि सरकार 2022 तक किसानों की आय को दो गुना करने हेतु प्रतिबद्ध हैं और किसानों को भी कृषि आधारित कार्यों में और अधिक रूचि लेकर अपनी आय को दो गुना करने हेतु सहयोग प्रदान करना होगा।
उन्होंने कहा कि किसानों की आर्थिकी के साधनों में वृद्धि हेतु कई योजनाएं संचालित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि किसानों के गन्ना का बकाया का शत-प्रतिशत भुगतान कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की आर्थिकी सुधारने हेतु प्रयत्नशील है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिकों द्वारा डिकम्पोजिटर लिक्विड बनाया गया है, जो 40 दिनों में जैविक कूड़े को खाद में परिवर्तित कर देता है। इसका मूल्य 20 से 25 रूपये लीटर है, यह खाद मृदा को उर्वरक बनाकर उसमें प्राण फूँकने का काम करेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा राज्य मंे जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए 3 वर्षों के लिए 15 सौ करोड़ रूपये उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में खेती करना कठिन है। उन्होंने कहा कि राज्य में 370 फार्मर मशीनरी बैंक बनाये गये हैं तथा प्रत्येक बैंक कीे 10 लाख की धनराशि रखी गयी है।
उन्होंने कहा कि राज्य में कोल्ड वाटर फिशरीज के लिए शीघ्र ही नई योजना लाँच की जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार पर निरन्तर प्रहार कर रही है। इसी क्रम में अब तक 25 भ्रष्टाचारियों को जेल भेजा जा चुका है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचारियों को तत्काल जेल भेजा जायेगा। उन्होंने दो टूक कहा कि भ्रष्टाचार को किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने बताया कि खाद्य घोटाले के अधिकारी को सस्पैण्ड करते हुए कार्यवाही की जा रही तथा वजीफा घोटाले की द्रुत गति से जाँच चल रही है। उन्होंने कहा कि जाँच में दोषी पाये जाने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों के खिलाफ तत्काल एक्शन लिया जायेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कानून व्यवस्था में राज्य देश में दूसरे स्थान पर है और देश के टाॅप 10 थानों की सूची में राज्य के 2 थानों ने स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने कहा कि किसी भी अपराधी को पकड़ने व अपराध नियन्त्रण हेतु पुलिस को परिवहन सहित हवाई सफर की सुविधा देने के लिए थाना निधि की स्थापना की गयी है, और उत्तराखण्ड, थाना निधि स्थापित करने वाला देश का पहला राज्य है।
उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के कारण राज्य को हुए नुकसान की भरपाई करने में कुछ समय अवश्य लगेगा। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार का सीधा असर समाज के गरीब, असहाय एवं पिछड़े हुए लोगों पर सर्वाधिक होता है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसी भी व्यक्ति का हक मरने नही दिया जायेगा। भ्रष्टाचार के माध्यम से किसी भी व्यक्ति के हकों पर डाका डालने वालों को बख्शा नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि जन समस्याओं के त्वरित गति से निस्तारण हेतु प्रत्येक जिलाधिकारी को प्रत्येक सोमवार के दिन, उप जिलाधिकारियों को मंगलवार के दिन, खण्ड विकास अधिकारियों को बुद्धवार के दिन व जनपद प्रभारी मंत्रियों को माह के अंतिम शुक्रवार व शनिवार को समस्याओं का निस्तारण करने हेतु उपस्थित रहने के निर्देश दिये गये हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने तीन तलाक विषय पर सुप्रीम कोर्ट जाने वाली शायरा बानो को भी सम्मानित किया।
इसके पश्चात मुख्यमंत्री ने महादेव नगर ढकिया नम्बर 2 में श्री जोगिन्दर सिंह चीमा जुग्गी जी के आवास पर आयोजित अखण्ड पाठ का भोग (अरदास) मे प्रतिभाग किया एवं कुण्डेश्वरी में श्री वीरेन्द्र सिंह बिष्ट के आवास पर भेंट की।
इस अवसर पर पं0दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना के अन्तर्गत 16776 कसानों को 52.15 करोड़ रूपये का ऋण मात्र 2 प्रतिशत ब्याज की दर पर वितरित किया गया। सीएम द्वारा पांच विकास कार्यो का शिलान्यास भी किया गया। मुख्यमंत्री ने लगभग 143 करोड़ रूपए लागत की योजनाओं का शिलान्यास किया।
1.    एन.एच. 309 पर विश्वकर्मा पेपर मिल से सीतापुर होते हुए जैतपुर धनोरी तक 4.02 करोड़ की धनराशि से 4.30 किमी मार्ग का पुनर्निर्माण कार्य।
2.    चाॅदपुर में सैनिक कालोनी से सतपाल आदि के घर तक व जसपुर खुर्द, आनन्द विहार में सीता देवी की दुकान से धोबी घाट तक मार्ग को मिलाने के लिए 3.79 करोड़ की धनराशि से 4.20 किमी का पुनर्निर्माण।
3.    काशीपुर में रामनगर रोड से आनन्द आश्रम होते हुए गढ़ीगंज तक मोटरमार्ग का 1.86 करोड़ की धनराशि से 2.6 किमी लम्बाई का सुदृढ़ीकरण एवं डामरीकरण।
4.    उत्तराखण्ड स्टेट में ईपीसी मोड के अन्तर्गत एनएच संख्या 121 के किमी 2.40 में स्थित लेवल क्रोसिंग संख्या 43बी पर फाॅर लेन आरओबी एवं इसके पहुॅच मार्ग का  76.52 करोड़ की लागत से 883.52 मीटर पहुॅच मार्ग का निर्माण।
5.    उत्तराखण्ड स्टेट में ईपीसी मोड के अन्तर्गत एनएच संख्या 74 के किमी 158.525 में स्थित लेवल क्रोसिंग संख्या 39बी पर टू लेन आरओबी एवं इसके पहुॅच मार्ग का 56.76 करोड़ की लागत से 751 मीटर पहुॅच मार्ग का निर्माण।
इस अवसर पर समाज कल्याण मंत्री  यशपाल आर्य, केन्द्रीय परिवहन राज्य मंत्री मनसुख मंदाविया, सहकारिता मंत्री  धनसिंह रावत, सांसद भगत सिंह कोश्यारी, विधायक  हरभजन सिंह चीमा एवं  आदेश सिंह चैहान द्वारा भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया गया।
इस अवसर पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  अजय भट्ट, विधायक  कैलाश गहतोडी,  पुस्कर सिंह धामी, मेयर ऊषा चैधरी, दान सिंह रावत, भाजपा जिलाध्यक्ष  शिव अरोरा,  राम महरोत्रा,  खिलेन्द्र चैधरी सहित जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल, एसएसपी डा0 सदानन्द दाते एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *